जम्मू कश्मीर दा बखरा झंडा

एह ते सारें गी पता ऐ की जम्मू कश्मीर,  देश दा ऐसा इस्सा ऐ जिसी भारतीय संविधान च बखरी जगह मिली दी| पर बड़े कट्ट लोकें गी पता ओना की जम्मू कश्मीर दा, भारतीय तिरंगे कोला इलावा बी एक झंडा ऐ,  जडा की स्टेट दा अपना झंडा ऐ।

उन तुस सारे सोचा दे ओने की देश दा इस्सा ओइये बी अलग झंडा की?  आओ जानचे जम्मू कश्मीर दे बारे :

बड़ी देर दा आस लगातार सुना ने आ दफा 370, त्रिये दिन दिखो खबरां चला दियां , आज 370 अटा दा , कदे 370 उप्पर बवाल ओइया।

इयो दफा 370 ऐ जिन जम्मू कश्मीर गी बखरा झंडा दित्ता , बखरी पशान दित्ती। 13 जुलाई, 1931 दे दिन श्रीनगर विच, डोगरा शासकें दे खिलाफ प्रदर्शन करदे मोके पुलिस नै गोलियां चलाईयां,  जिदे करिये 21  लोग वीरगति गी पराप्त ओए। उने  वीरें दे सम्मान च, कठ्ठे ओए दे लोकें,  उन्दे खून दे परे वस्त्र लहराऐ,  जिसी कश्मीर दा झंडा आखेया गया

इस कांड दे आठ साल बाद 11जुलाई, 1938  गी जम्मू कश्मीर नेशनल कॉन्फरेंस पारटी नै ऐ झंडा अपनाया।

7 जून 1952 गी जम्मू कश्मीर दी संविधान सभा ने इस झंडे गी स्टेट झंडा बनाने दा फैंसला कित्ता।

  • इस झंडे दा लाल रंग मजदूरें दा प्रतिनिधित्व करदा ऐ
  • हल, खेतीबाडी दर्शांदा ,
  • ते तिन सफेद तारियां , जम्मू कश्मीर दे तिन क्षेत्रें दा प्रतिनिधित्व करदे नै (जम्मू , कश्मीर ते लद्दाख )।

चेतना शर्मा,

केंद्रीय विश्वविद्यालय जम्मू की छात्रा ।